Krishi Sakhi Yojana 2024: 60 से 80 हजार तक कमा सकेंगी, घर की महिलाएं इस ट्रेनिंग को करने के बाद, तो आज ही करें आप भी आवेदन

Krishi Sakhi Yojana 2024: हमारे देश के प्रधानमंत्री महिलाओं के हित के लिए तथा उन्हें आत्मनिर्भर बनाने के लिए तरह-तरह के योजनाओं का शुभारंभ करते रहते हैं। हाल में ही मोदी ने एक नई कार्यक्रम को हरी झंडी दी है। इस योजना का उद्देश्य है। कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जाए। और वह अपने कौशल एवं मेहनत के दम पर नई ऊंचाइयों को छुए।

ग्रामीण महिलाओं के लिए Krishi Sakhi Yojana का शुभ आरंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को कई तरह के ट्रेनिंग सुविधा प्रदान की जाएगी। जिससे महिलाएं उन ट्रेनिंग को कर कर रोजगार पाने के लिए सक्षम बनेगी। तथा ट्रेनिंग के अंत में महिलाओं को एक प्रमाण पत्र भी प्रदान किया जाएगा।

Krishi Sakhi Yojana 2024 क्या है

कृषि सखी योजना 2024 के तहत महिलाओं को फ्री ट्रेनिंग दी जाएगी। इस योजना का उद्देश्य है। महिलाएं आत्मनिर्भर बने तथा रोजगार प्राप्त करके अपने आप को ग्रो करे। इसे महिला लखपति योजना को देखते हुए शुरू किया गया है। महिला लखपति योजना के तहत सरकार का यह उद्देश्य था।

कि 3 करोड़ से अधिक लखपति दीदी को 1 लाख से अधिक कमाने के लिए तैयार किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत फ्री ट्रेनिंग प्राप्त करने वाली महिलाओं को उन्हें अपनी आजीविका सुधारने के लिए तथा आत्मनिर्भर और सशक्तिकरण बनाने के लिए कौशल प्रमाण पत्र भी दिया जाएगा।

Krishi Sakhi Yojana का उद्देश्य

कृषि सखी योजना के तहत 3 करोड़ महिलाओं को लखपति बनाने के लिए तैयार किया जाएगा। तथा ( KSCP) का उद्देश्य यह है। कि भारत में ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को उनकी आजीविका सुधारने के लिए तथा आत्मनिर्भर बनाने के लिए उनको प्रशिक्षित और प्रमाणित करके वह सशक्त बने इस योजना का यही उद्देश्य रखा गया है। कि महिलाओं को महत्वाकांक्षी और प्रशिक्षित किया जाए। ताकि वह रोजगार के क्षेत्र में अपने लक्ष्य को प्राप्त करें।

Krishi Sakhi Yojana को इन राज्यों में शुरू किया गया है

  • गुजरात
  • तमिलनाडु
  • उत्तर प्रदेश
  • मध्य प्रदेश
  • छत्तीसगढ़
  • कर्नाटक
  • महाराष्ट्र
  • राजस्थान
  • ओडिशा
  • झारखंड
  • आंध्र प्रदेश
  • मेघालय

Free Sauchalay Yojana Registration 2024

Krishi Sakhi Yojana में किस प्रकार की ट्रेनिंग दी जाएगी

  • पशुधन प्रबंधन: इसके अंतर्गत पशुधन की देखभाल और प्रबंधन की मूल बातें सिखाई जाते हैं।
  • बीच बैंक: इसमें यह सिखाया जाता है कि किसानों को गुणवत्तापूर्ण बीच उपलब्ध करने के लिए बीच बैंक कैसे स्थापित करें।
  • किसान फील्ड स्कूल आयोजित करना: इसके अंतर्गत सखियों को स्कूल स्थापित करना एवं उसे सही से चलना सिखाया जाता है।
  • मृदा स्वास्थ्य और नमी संरक्षण: इसमें पर मृदा स्वास्थ्य बनाए रखने और नमी को सुरक्षित करने के तरीके सिखाए जाते हैं।
  • एकीकृत कृषि प्रणाली: बेहतर लाभ के लिए नई तकनीक सिखाए जाते हैं।
  • कृषि पारिस्थितिक पद्धतियां: इसके अंतर्गत भूमि को तैयार करना और फसल की कटाई करना सिखाया जाता है।

Krishi Sakhi Yojana के तहत ऐसे मिलेगा रोजगार

कृषि सखी योजना ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद महिलाओं को मूल्यांकन के लिए एक योग्यता परीक्षा देना पड़ेगा। जो लोग इस परीक्षा में पास हो जाते हैं। उन लोगों को पैरा विस्तार कार्यकर्ताओं के रूप में प्रमाणित किया जाता है। तथा कृषि साखियां और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं में भाग लेने के लिए उन्हें तैयार किया जाता है। तथा वह अपनी सेवाओं के लिए एक निश्चित शुल्क तय कर सकती हैं। या कम सकती हैं।

Leave a Comment